रिम्स में गरीब सवर्ण के लिए आरक्षण तय, 30 सीटें बढ़ीं

NEET Bulletin,

रांची : राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में इस सत्र से एमबीबीएस की 30 सीटें बढ़ जायेंगी. इस फैसले के बाद रिम्स में एमबीबीएस की 180 सीटों पर नामांकन होगा. इकोनॉमिक वीकर सेक्शन (इडब्ल्यूएस) यानी आर्थिक रूप से पिछड़े (गरीब सवर्ण) का कोटा लागू होने से एमबीबीएस की सीटें बढ़ी हैं.
इडब्ल्यूएस कोटा से अन्य वर्गों को मिलने वाले आरक्षण में कमी नहीं हो और  कोई विवाद नहीं हो, इसका ध्यान रखते हुए सीट में बढ़ोतरी की गयी है. जानकारी के अनुसार, रिम्स में ऑल इंडिया कोटा से 15 फीसदी और सेंट्रल कोटे से तीन फीसदी सीटों पर नामांकन होता  है. इसके बाद इडब्ल्यूएस का कोटा  10 फीसदी होगा. इसके बाद बची सीटें पर राज्य कोटे  से नामांकन लिया जायेगा.
रिम्स निदेशक डॉ दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि इडब्ल्यूएस का आरक्षण लागू होने से रिम्स की 30 सीटें बढ़ गयी हैं. रिम्स प्रबंधन की तरफ से 38 सीटें बढ़ाने का प्रस्ताव दिया गया था.
मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआइ)  ने 30 सीटें ही बढ़ाने की अनुमति दी है. एक अगस्त से होने वाली काउंसलिंग में नयी सीटों (कुल 180 सीट) के आधार पर नामांकन लिया जायेगा. एमसीआइ की ओर सीटों की बढ़ाेतरी से संबंधित जानकारी रिम्स प्रबंधन को पत्र के माध्यम से मिल गयी है|

Leave a Reply

× How can i help you?